कोलकाता : सोने की एक दुकान में चोरी के मामले को लेकर गैर जमानती वारंट का सामना कर रहे केंद्रीय गृह राज्य मंत्री निशीथ प्रमाणिक ने मंगलवार को कोर्ट में सरेंडर किया। उन्होंने अलीपुरद्वार के जिला कोर्ट में सरेंडर किया है।

Advertisement

करीब 14 साल पहले अलीपुरद्वार शहर की सोने की दो दुकानों में चोरी हुई थी। उस मामले में दर्ज प्राथमिकी में निशीथ प्रमाणिक को भी नामजद किया गया था। इस मामले में पिछले साल 11 नवंबर को अलीपुरद्वार की सेशन कोर्ट ने गिरफ्तारी का वारंट जारी किया था। हालांकि बाद में कलकत्ता हाई कोर्ट ने वारंट पर स्थगन लगा दिया था। इसी मामले में मंगलवार को उन्होंने कोर्ट में सरेंडर किया है। उनके साथ कई भाजपा कार्यकर्ता भी कोर्ट पहुंचे थे। इस दौरान कोर्ट में कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की गई थी।

वर्ष 2009 में अलीपुरद्वार शहर से सटे सोने की दो दुकानों में चोरी हुई थी। उसमें निशीथ प्रमाणिक को नामजद किया गया था। वर्ष 2019 में जब वह सांसद बने थे तब यह मामला बारासात एमपी कोर्ट में स्थानांतरित हो गया था। बाद में निशीथ के आवेदन पर मामला वापस अलीपुरद्वार की लोअर कोर्ट में स्थानांतरित करने का आदेश कलकत्ता हाई कोर्ट ने दिया था। इसी मामले में जब उनके खिलाफ पिछले साल वारंट जारी हुआ तो पूरे देश में सुर्खियां बन गई थी। इसे लेकर तृणमूल कांग्रेस सड़कों पर भी उतरी थी और निशीथ प्रमाणिक की गिरफ्तारी की मांग की थी।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here