तीन महीने से पिता के शव को घर में रखकर रह रहे थे बेटा और पत्नी

109

कोलकाता : दक्षिण कोलकाता के एक इलाके में तीन माह से मृत व्यक्ति के साथ परिजनों के रहने का मामला सामने आया है। पिता की मौत के बाद बेटा अपनी माँ के साथ तीन महीने से शव को घर में ही रखकर रह रहा था। मृतक की शिनाख्त 70 साल के संग्राम दे के रूप में हुई है।

Advertisement

एसएसडी डिवीजन के उपायुक्त आईपीएस रशीद मुनीर खान ने सोमवार को बताया है कि एक स्थानीय व्यक्ति ने पुलिस को सूचना दी थी कि पिछले कुछ दिन से संग्राम नजर नहीं आ रहे हैं। इसके बाद सोमवार को पुलिस उनके घर पहुंची और घर की तलाशी ली तो घर में संग्राम का कंकाल मिला। पता चला कि वह तीन महीने पहले ही मर चुके थे। शव पूरी तरह से सड़कर कंकाल में तब्दील हो चुका है। घर ही में उनका 40 साल का बेटा कौशिक दे रह रहा था, जो मानसिक तौर पर बीमार बताया जा रहा है। इसके अलावा मृतक की 65 वर्षीया पत्नी अरुणा दे भी उसी मकान में रह रही थीं। वह पैरालाइज्ड हैं और चल फिर नहीं सकतीं। पता चला है कि संग्राम दे सॉल्टलेक स्थित भाभा एटॉमिक रिसर्च सेंटर में काम करते थे। पुलिस ने अस्वाभाविक मौत का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस ने मृतक के बेटे को चिकित्सकीय जांच के लिए अस्पताल में भर्ती कराया है।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here