कोलकाता : कोयला तस्करी मामले की जांच कर रही केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) ने कोलकाता के ईएम बाईपास  स्थित एक निजी अस्पताल के खिलाफ कोर्ट में शिकायत की है।

Advertisement

आसनसोल की विशेष सीबीआई कोर्ट में दाखिल पत्र में सीबीआई ने इस अस्पताल की भूमिका को लेकर सवाल खड़ा करते हुए बताया है कि कोर्ट के निर्देश पर गुरुवार रात को ही अस्पताल में इलाजरत कोयला तस्करी के मुख्य सूत्रधार विनय मिश्रा के भाई विकास मिश्रा को गिरफ्तार कर लिया गया था। अस्पताल की ओर से गुरुवार रात को ही छुट्टी दे दी जानी थी। इसकी प्रक्रिया भी शुरू कर दी गई थी और रिलीज लेटर भी मिल गया था लेकिन शुक्रवार सुबह तक विकास को अस्पताल से नहीं छोड़ा गया। यहां तक कि उसे दोबारा अस्पताल में भर्ती कर लिया गया है। केंद्रीय एजेंसी ने कहा है कि अस्पताल पर दबाव बनाया जा रहा है जिसकी वजह से विकास मिश्रा को नहीं छोड़ा जा रहा।

उल्लेखनीय है कि विकास को सीबीआई कोर्ट में पेश करने की तैयारी में है लेकिन अस्पताल की ओर से टालमटोल करने की वजह से वह ऐसा नहीं कर पा रही है।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here