पवित्रम संस्कार वाटिका ऑनलाइन समर कैंप 20 मई से 12 जून तक

योगा, क्रिएटिविटी, सेवा कार्य, पर्यावरण, गो महत्ता, भारतीय संस्कृति की शिक्षा दी जाएगी 25000 बच्चों को जोड़ने का लक्ष्य : संजय भरतिया

199
संजय भरतिया,अध्यक्ष, अभ्य्यास सेवा समिति

कोलकाता : पिछले वर्ष की तरह इस वर्ष भी अभ्यास सेवा समिति के द्वारा 5 वर्ष से 14 वर्ष की आयु के बच्चों के लिए ऑनलाइन समर कैंप आयोजित किया जा रहा है। अभ्यास सेवा समिति के अध्यक्ष संजय भरतिया ने बताया कि इस अभियान के अंतर्गत 5 साल से 14 तक के बच्चों को ऑनलाइन ही योगा, क्रिएटिविटी, पर्सनैलिटी डेवलपमेंट, वैदिक शिक्षा, सेवा कार्य, पर्यावरण, अग्निहोत्र, गो महत्ता, देश भक्ति, दैनिक जीवन के श्लोक सहित 25 विषयों की शिक्षा दी जाएगी तथा इन विषयों से जुड़ने के लिए संस्कार सिखाए जाएंगे। यह सर्वश्रेष्ठ समय है उनके निर्माण का बच्चों को जिस दिशा में मोड़ा जाएगा

Advertisement

उसी दिशा में वह भविष्य में आगे बढ़ेंगे उनमें सकारात्मकता का निर्माण होने से वो देश समाज और परिवार के लिए भी उपयोगी सिद्ध होंगे, उन्होंने बताया कि इस पवित्रम संस्कार वाटिका को ग्रीष्मकालीन अवकाश 20 मई 2022 से 12 जून 2022 तक राष्ट्रीय स्तर पर लगभग 25000 बच्चों के बीच चलाने का लक्ष्य रखा गया है। अभ्यास सेवा समिति के संस्थापक श्री अजय भरतिया ने बताया कि समिति पिछले कई वर्षों से शिक्षा ,पर्यावरण,आयुर्वेद चिकित्सा , पञ्चगव्य चिकित्सा , प्राकृतिक चिकित्सा जैविक खेती, महिला स्वाबलंबन जैसे महत्वपूर्ण विषयों पर कार्य कर रही है।

पवित्रम संस्कार वाटिका में बच्चों को खेल खेल में संस्कार सिखाए जाएंगे तथा भारतीय संस्कृति की शिक्षा दी जाएगी। कार्यक्रम को सफल बनाने में पवित्रम संस्कार वाटिका के संयोजक शैलेंद्र तिवारी, मीना नागवान, संजय झा ,आलोक डोकानिया ,मनीषा गुप्ता, मोनिका अग्रवाल,सम्भू अग्रवाल, राजेन्द्र अग्रवाल आदि महत्वपूर्ण योगदान दे रहे हैं उन्होंने अधिक से अधिक लोगों से पवित्रम संस्कार वाटिका से जुड़ने की अपील की है। अनेको महिला संगठन भी अखिल भारतीय स्तर पर साथ मे जुड़ रहे है।संस्था की वेबसाइट लिंक www.pavitramseva.com के माध्यम से,इस कार्यक्रम से जुड़ा जा सकता है।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here