नयी दिल्ली : छह बार की विश्व चैंपियन महिला मुक्केबाज मैरीकॉम ने घोषणा की है कि वह चोट के कारण इस साल होने वाली मुक्केबाजी महिला विश्व चैम्पियनशिप में नहीं खेलेंगी। हालांकि विश्व चैंपियनशिप में कुल आठ पदक जीतने वालीं 40 वर्षीया मैरीकॉम ने चोट की प्रकृति के बारे में नहीं बताया है। मगर उन्होंने जल्द ठीक होने की उम्मीद जताई है। यह घोषणा उन्होंने कोलकाता में एक इवेंट में की।

Advertisement

आईबीए विश्व चैंपियनशिप-2023 इस साल 01 मई से 14 मई तक उज्बेकिस्तान के ताशकंद में आयोजित की जाएगी। मैरीकॉम ने कहा है कि वह चोट के कारण इसमें हिस्सा नहीं ले पाएंगी। मैरीकॉम ने उम्मीद जताई है कि इस चैंपियनशिप में भारत को कोई नया चैंपियन मिल सकता है। उन्होंने सभी प्रतिभागियों को शुभकामनाएं दी हैं।

मैरीकॉम पिछले साल बर्मिंघम कॉमनवेल्थ गेम्स नहीं खेल पाई थीं। उन्हें घुटने की चोट के कारण चयन ट्रायल से हटना पड़ा था। 48 किलोग्राम सेमीफाइनल के शुरुआती दौर में शुरुआती कुछ मिनटों में उनका बायां घुटना मुड़ गया था। बाउट के पहले ही राउंड में एक मुक्के से बचने की कोशिश में मैरीकॉम कैनवस पर गिर गई थीं।

अब तक के महानतम भारतीय एथलीट में से एक मैरीकॉम विश्व चैंपियनशिप इतिहास की सबसे सफल मुक्केबाज हैं। वह पहली सात विश्व चैंपियनशिप में से प्रत्येक में पदक जीतने वाली एकमात्र महिला मुक्केबाज हैं, और आठ विश्व चैम्पियनशिप पदक जीतने वाली एकमात्र मुक्केबाज (पुरुष या महिला) हैं। मैरी दक्षिण कोरिया के इंचियोन में 2014 में एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीतने वाली पहली भारतीय महिला मुक्केबाज बनीं और 2018 राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण जीतने वाली पहली भारतीय महिला मुक्केबाज हैं। उन्होंने 2021 लंदन ओलंपिक में कांस्य पदक भी जीता।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here