Omicron

नयी दिल्ली : कोरोना वायरस नए स्वरूप ओमिक्रॉन के संकट के बीच इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (आईसीएमआर) ने ओमीश्योर किट को मंजूरी दे दी है। इस किट का इस्तेमाल ओमिक्रॉन वेरिएंट का पता लगाने के लिए किया जाएगा। इस खास किट का निर्माण टाटा मेडिकल एंड डायग्नोस्टिक द्वारा किया गया है।

Advertisement

मौजूदा समय में भारत में ओमिक्रॉन वेरिएंट का पता लगाने के लिए अमेरिका स्थित वैज्ञानिक उपकरण कंपनी थर्मो फिशर द्वारा विकसित किट का इस्तेमाल किया जा रहा है। ओमिक्रॉन वेरिएंट का पता लगाने के लिए एस जीन टारगेट फेल्योर रणनीति यानि सैंपल में एस जीन के ना होने से इस बीमारी का पता लगाता है।

उल्लेखनीय है कि देश में मंगलवार सुबह जारी आंकड़ों के मुताबिक ओमिक्रॉन संक्रमितों के संख्या 1892 हो गई है और इस दौरान 766 मरीज ठीक भी हुए हैं।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here