मुंबई : उपमुख्यमंत्री अजीत पवार ने कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के बारे में दिए गए विवादित बयान पर राज्य सरकार धर्मगुरु कालीचरण महाराज के विरुद्ध कानूनन कार्रवाई करेगी। इस मामले की गहन छानबीन का आदेश अजीत पवार ने गृह मंत्रालय को दिया है।

Advertisement

विधानसभा में सोमवार को अल्पसंख्यक मंत्री नवाब मलिक ने कहा कि अकोला जिले के निवासी धर्मगुरु कालीचरण महाराज ने रायपुर में धर्मसंसद में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के बारे में विवादित बयान दिया है। इससे महाराष्ट्र के नागरिकों की भावनाएं आहत हुई हैं। इसलिए कालीचरण महाराज पर राष्ट्रद्रोह मामला दर्ज कर कठोर कार्रवाई की जानी चाहिए।

इसके बाद महाराष्ट्र कांग्रेस अध्यक्ष नाना पटोले ने कहा कि कालीचरण ने महात्मा गांधी का जिन शब्दों में अपमान किया है, वह किसी भी कीमत पर सहन नहीं किया जा सकता है। इसलिए कालीचरण महाराज पर कार्रवाई की जानी चाहिए। उपमुख्यमंत्री ने कहा कि महाराष्ट्र की संस्कृति सभी को साथ लेकर चलने की रही है। अगर कालीचरण महाराज के बयान से राज्य की जनता की भावनाएं आहत हुई हैं तो इस मामले की गहन छानबीन करके कठोर कार्रवाई की जाएगी।

उल्लेखनीय है कि धर्मगुरु कालीचरण ने छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में आयोजित धर्मसंसद में कहा था कि वे नाथूराम गोडसे को सलाम करते हैं। इसके साथ ही कालीचरण ने और भी विवादित बयान दिया था।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here