कोलकाता : कोरोना की वजह से बंद पड़े बंगाल के बीरभूम जिले के ऐतिहासिक विश्वभारती विश्वविद्यालय को दोबारा खोल दिया गया है। बुधवार से राज्य सरकार के निर्देशानुसार 50 फ़ीसदी कर्मचारियों, अधिकारियों और प्रोफेसरों की उपस्थिति में विश्वविद्यालय खुला है। 16 नवंबर से पठन-पाठन शुरू होगा। उसके पहले साफ-सफाई और ढांचागत व्यवस्थाओं को दुरुस्त किया जाएगा। विश्वविद्यालय की ओर से जारी नोटिस में कहा गया है कि आपातकालीन सेवाएं भी उपलब्ध कराई जाएंगी। पश्चिम बंगाल सरकार ने आगामी 16 नवंबर से शिक्षण संस्थानों में पठन-पाठन शुरू करने का निर्देश दिया है। उसके पहले शिक्षण संस्थानों को खोलकर उसमें कर्मचारियों की उपस्थिति अनिवार्य की गई है।

Advertisement

नोटिस में कहा गया है कि ऐसा इसलिए किया जाएगा ताकि पठन-पाठन शुरू करने के लिए आवश्यक ढांचागत व्यवस्थाएं ठीक की जा सकें। कोरोना की पहली लहर के साथ ही विश्वविद्यालयों को बंद कर दिया गया था। विश्वभारती का अत्यावश्यक कार्य और अध्ययन ऑनलाइन चल रहा था। हालांकि लॉकडाउन के दौरान काफी विवादों में रहे विश्वभारती में पठन-पाठन का माहौल दोबारा सामान्य रहता है या नहीं यह देखने वाली बात होगी।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here