उत्तराखंडः भारी बारिश से गंगा का जलस्तर बढ़ा

230

ऋषिकेश आरती स्थल सहित पुलिस की आपदा प्रबंधन चौकी डूबी

Advertisement

ऋषिकेश : मौसम विभाग के साथ राज्य सरकार के आपदा प्रबंधन द्वारा पहाड़ों में वर्षा को देखते हुए अलर्ट जारी कर तमाम जरूरी प्रबंध किये जा रहे हैं। इस दौरान ऋषिकेश के त्रिवेणी घाट पर गंगा का जलस्तर खतरे के निशान से 20 सेंटीमीटर नीचे बह रहा है। जिसके चलते मंगलवार सुबह त्रिवेणी घाट पर गंगा आरती स्थल सहित आपदा प्रबंधन की बनी पुलिस चौकी में भी पानी घुस गया है।

इस आपात स्थिति को देखते हुए स्थानीय पुलिस प्रशासन अलर्ट है। प्रशासन ने त्रिवेणी घाट को खाली कराते हुए लोगों से सुरक्षित स्थानों पर जाने की अपील की है। ऋषिकेश तहसीलदार अमृता शर्मा अपनी टीम के साथ त्रिवेणी घाट पहुंचीं। ऋषिकेश कोतवाली प्रभारी महेश जोशी और घाट चौकी इंचार्ज उत्तम रमोला के साथ आपदा प्रबंधन को लेकर घाट पर रह रहे लोगों से उन्होंने सुरक्षित स्थान पर चले जाने को लेकर हिदायत देते हुए खाली करवा दिया है।

वहीं, गंगा आरती स्थल सहित घाट पर बनी पुलिस की आपदा प्रबंधन चौकी भी डूब गई है। श्री गंगा सभा ऋषिकेश के कार्यकारी अध्यक्ष राहुल शर्मा का कहना था कि घाट पर 4:00 बजे से गंगा का जलस्तर बढ़ना शुरू हो गया था ,जो सुबह 7:00 बजे तक अपने पूरे उफान पर रहा।

केंद्रीय जल आयोग अधिकारियों का कहना है कि गंगा का जलस्तर बढ़ने की सूचना मिलते ही सोमवार रात को ही अलर्ट जारी कर दिया गया था। गंगा सेवा समिति के कर्मचारियों ने गंगा स्थल पर रखे सारे सामान को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाना प्रारंभ कर दिया है। पुलिस ने त्रिवेणी घाट जाने वाले सभी रास्तों को सुरक्षा की दृष्टि से बंद कर दिया है।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here