Dilip Ghosh

कोलकाता : नेताजी सुभाष चंद्र बोस को लेकर भारतीय जनता पार्टी और तृणमूल के बीच चल रही जुबानी जंग में भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष दिलीप घोष ने कटाक्ष किया है। घोष ने नेताजी के प्रति तृणमूल के प्रेम को दिखावा और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को इतिहास बनाने वाला बताया।

Advertisement

सोमवार को तृणमूल कांग्रेस के केंद्र की नरेन्द्र मोदी सरकार पर नेताजी की विरासत को दरकिनार करने के आरोपों का जवाब देते हुए भाजपा नेता घोष ने कहा कि आजादी के महानायक को लेकर तृणमूल कांग्रेस का प्रेम केवल दिखावा है। कोलकाता समेत पूरे राज्य में चौक चौराहों पर नेताजी की प्रतिमा से बड़ी ममता की तस्वीरें लगाई जाती हैं। आज तक तृणमूल कांग्रेस ने नेताजी के सम्मान के लिए कुछ नहीं किया है।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सराहना करते हुए दिलीप घोष ने कहा कि मोदी इतिहास बनाने वाले लोग हैं। नेताजी की ग्रेनाइट की प्रतिमा इंडिया गेट पर लग रही है, जो भारत के इतिहास में एक बड़ा कदम है। घोष ने कहा कि तृणमूल कांग्रेस का हर कदम वोट की राजनीति पर केंद्रित होता है। रविवार को विधानसभा में नेताजी को सम्मान दिए जाने का कार्यक्रम था लेकिन ममता बनर्जी नहीं गईं, क्योंकि वहां से उन्हें कोई पब्लिसिटी मिलने वाली नहीं थी।

भाजपा के सभी विधायकों और सदस्यों ने विधानसभा में नेताजी की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर श्रद्धांजलि दी। उन्होंने कहा कि तृणमूल कांग्रेस के सारे कार्यक्रम नेताजी जयंती पर दोपहर 12:00 से शुरू हुए जबकि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सुबह 8 बजे से ही नेताजी की प्रतिमा का अनावरण और श्रद्धांजलि कार्यक्रम में भाग लिया था। घोष ने कहा कि नरेन्द्र मोदी इतिहास बनाते हैं जबकि ममता बनर्जी ने इतिहास ही नहीं पढ़ा है। ममता बनर्जी ने कहा था कि राज्य में नेताजी के नाम पर विश्वविद्यालय बनेंगे, शोध होंगे लेकिन आज तक कुछ नहीं हुआ जबकि प्रधानमंत्री ने जो कहा वह करके दिखाया है।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here