फिरहाद हकीम (फाइल फोटो)

कोलकाता : कोरोना संक्रमण के साथ-साथ पश्चिम बंगाल में भाजपा बनाम तृणमूल का भी विवाद बढ़ता ही जा रहा है। इसी बीच प्रधानमंत्री के साथ वर्चुअल बैठक में बंगाल के किसी जिलाधिकारी के उपस्थित न रहने पर विपक्ष के नेता शुभेंदु अधिकारी ने प्रधानमंत्री मोदी एवं गृह मंत्री अमित शाह को पत्र लिखकर शिकायत करने की बात कही है। इस पर तृणमूल ने पटलवार किया है।

Advertisement

इस मामले में रविवार को कोलकाता नगर निगम के मेयर फिरहाद हकीम ने अधिकारी पर कटाक्ष करते हुए कहा कि शुभेन्दु अधिकारी ने क्या कहा, इससे जिलाधिकारियों का कोई भी मतलब नहीं। मेयर ने कहा कि यहां तक कि अधिकारी की बातों से प्रशासन का भी कुछ बिगड़ने वाला नहीं है। शुभेंदु अधिकारी विरोधी दल नेता हैं इसलिए मैं अनुरोध करूंगा कि आपको उन्हें नेता की पदवी शोभा नहीं देती। इसलिए कृपया इसे आप दिमाग में न लें।

उल्लेखनीय है कि 1954 साल के आईएएस कैडर विधि में बदलाव को लेकर मोदी सरकार को भेजे गये प्रस्ताव को लेकर केंद्र एवं राज्य सरकारों के विवाद चरम पर है। इसे लेकर शनिवार को देशभर के जिलाधिकारियों की प्रधानमंत्री मादी ने वर्चुअल बैठक बुलाई थी। इस बैठक में पश्चिम बंगाल के सभी जिलाधिकारी अनुपस्थित थे।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here