आतंकवाद पर अंकुश लगाने के लिए राज्य के सीमावर्ती क्षेत्रों को केंद्र शासित प्रदेश में शामिल करना जरूरी : अर्जुन सिंह

84

बैरकपुर : भाजपा सांसद अर्जुन सिंह ने आतंकवाद पर अंकुश लगाने के लिए राज्य के सीमावर्ती क्षेत्रों को केंद्र शासित प्रदेश में शामिल करने की मांग की है। पेट्रोलियम उत्पादों पर वैट घटाने और दैनिक जरूरतों की चीजों के दामों में असामान्य वृद्धि को कम करने की मांग को लेकर भाजपा ने शुक्रवार को बैरकपुर महकमा शासक के कार्यालय के सामने विरोध प्रदर्शन किया। विरोध प्रदर्शन के बाद महकमा शासक के समक्ष विज्ञप्ति भी सौंपी गई। इस विरोध प्रदर्शन में भाजपा सांसद अर्जुन सिंह ने भी हिस्सा लिया। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार के लिए उचित है कि वे राज्य के सीमावर्ती क्षेत्रों को केंद्र शासित प्रदेश में शामिल करें, नहीं तो पश्चिम बंगाल को दूसरा कश्मीर बनते देर नहीं लगेगी। उन्होंने यह भी कहा कि तृणमूल की सरकार जन स्वार्थ के दृष्टिकोण से नहीं बल्कि निज स्वार्थ के दृष्टिकोण से चल रही है। इसी वजह से तृणमूल की सरकार आम लोगों के ऊपर बोझ बढ़ा रही है। अर्जुन सिंह ने सीधे-सीधे कहा कि यदि राज्य सरकार पेट्रोल-डीजल के दाम से वैट कम नहीं करती है तो आने वाले समय में वृहद आंदोलन का रूख किया जाएगा। इस दिन विरोध प्रदर्शन में भाजपा की राज्य सचिव फाल्गुनी पात्र, बैरकपुर जिला संगठन के उपाध्यक्ष विजय मुखर्जी, राज्य कमेटी युवा मोर्चा के सदस्य कुंदन सिंह समेत अन्य नेतागण व समर्थक मौजूद थे। भाजपा के जिला अध्यक्ष रविन्द्रनाथ भट्टाचार्य ने कहा कि केन्द्र सरकार ने डीजल पर  10 रुपये और पेट्रोल पर 5 रुपये टैक्स कम किया है लेकिन तृणमूल सरकार पश्चिम बंगाल में पेट्रोल-डीजल पर वैट कम नहीं कर रही है। इसके साथ ही रोज के जरूरी समानों के दाम भी हर दिन आकाश छू रहे हैं। उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि तृणमूल की गुंडावाहिनी पार्टी कार्यालयों को जगह-जगह तोड़-फोड़ रही है। पार्टी कार्यालय को दखल कर ले रही है, भाजपा समर्थकों को झूठे मामलों में फंसाया जा रहा है। इन्हीं सभी समस्याओं को लेकर आज महकमा शासक के समक्ष ज्ञापन सौंपा गया है।

Advertisement
Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here