बिहार में नहीं होगा शराबबंदी कानून में संशोधन

99
  • डिप्टी सीएम ने समीक्षा की अटकलों को सिरे से किया खारिज
  • कहा, शराबबंदी कानून पर राजग पूरी तरह से एकजुट

पटना : बिहार में शराबबंदी कानून में किसी भी तरह का संशोधन नहीं होगा। संशोधन के मामले में किसी भी तरह का विचार नहीं किया जा रहा है। यह कहना है डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद का।

Advertisement

बिहार में हाल के दिनों में जिस तरह से शराबबंदी को लेकर लगातार विपक्ष का सरकार पर हमला हो रहा है और सरकार की सहयोगी भाजपा के मंत्री की तरफ से भी शराबबंदी की समीक्षा की बातें की जा रही हैं उसके बाद इस तरह की खबरें सामने आने लगी थीं कि राज्य सरकार शराबबंदी कानून में संशोधन कर सकती है लेकिन उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद ने उन तमाम कयासों पर विराम लगा दिया है।

मंगलवार को पटना स्थित भाजपा कार्यालय में युवा विंग के ब्लड डोनेशन कार्यक्रम में शामिल तार किशोर प्रसाद ने कहा कि शराबबंदी कानून पर एनडीए पूरी तरह से एकजुट है और शराबबंदी कानून का पूरी तरह से पालन किया जाएगा। तारकिशोर प्रसाद ने पूर्व सीएम जीतन राम मांझी के उस बयान पर भी प्रतिक्रिया दी जिसमें उन्होंने शराबबंदी कानून की समीक्षा की बात कही थी।

तार किशोर प्रसाद ने कहा कि पूर्व सीएम जीतन राम मांझी हमारे अभिभावक हैं, उनकी पार्टी एनडीए की महत्वपूर्ण घटक दल है। उन्होंने अपने विचार और सलाह दिये हैं, लेकिन अभी तक एनडीए विधानमंडल में शराबबंदी संशोधन पर कोई बात नहीं हुई है। दूसरी तरफ इसी मुद्दे पर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल कुछ भी बोलने से बचते नजर आए।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here