बीरभूम में बनेगा सत्संग मिशन मेडिकल कॉलेज, अस्पताल व कैंसर रिसर्च इंस्टिट्यूट

241

सिउड़ी : बीरभूम जिले में ‘सभी के लिए उन्नत स्वास्थ्य देखभाल’ की आवश्यकता को ध्यान में रखते हुए, सत्संग मिशन मेडिकल कॉलेज, अस्पताल व कैंसर रिसर्च इंस्टिट्यूट का शिलान्यास ठाकुर अनुकुल चंद्र सत्संग मिशन साधनपीठ द्वारा हरिपुर धाम, चंद्रपुर, सिउड़ी में आयोजित किया गया। ठाकुर अनुकुल चंद्र सत्संग मिशन साधनपीठ एक चैरिटेबल ट्रस्ट जिसके अध्यक्ष श्री बिभास चंद्र अधिकारी हैं।

Advertisement

शिक्षा प्रणाली को मजबूत करने और बीरभूम को पर्यटन केंद्र बनाने के मिशन के लिए, तपबन विद्यालय, ऋषि शांडिल्य विश्वविद्यालय, पुरुषोत्तम फार्मा और खुदरा श्रृंखला, सत्संग मिशन कृषि विज्ञान केंद्र जैसी कई अन्य महत्वपूर्ण विकास परियोजनाओं की आधारशिला हरिपुर धाम में रखी गई।

लगभग 1000 करोड़ रुपये के निवेश के साथ 200 एकड़ में फैला हुआ, सत्संग मिशन मेडिकल कॉलेज, अस्पताल व कैंसर रिसर्च इंस्टिट्यूट के अगले 3 वर्षों में पूरे होने की उम्मीद है, इसके बाद अन्य परियोजनाओं को पूरा किया जायेगा। परियोजनाओं का उद्देश्य बीरभूम और पड़ोसी क्षेत्रों में विकास लाना है। यह न केवल लोगों को बीरभूम में सर्वोत्तम चिकित्सा सेवाएं और शिक्षा प्राप्त करने में मदद करेगा, बल्कि क्षेत्र का सांस्कृतिक और सामाजिक केंद्र भी बनेगा। इसका उद्देश्य क्षेत्र के ग्रामीण लोगों को बेहतर उपचार देना है जिसमें न केवल बीरभूम जिले के लोग बल्कि पड़ोसी राज्य झारखंड के लोग भी शामिल हैं।

सत्संग मिशन मेडिकल कॉलेज, अस्पताल व कैंसर रिसर्च इंस्टिट्यूट के अलावा, अन्य परियोजनाएं हैं: श्री श्री ठाकुर अनुकुल चंद्र तपबन विद्यालय – बांग्ला और अंग्रेजी माध्यम (बच्चों के लिए), श्री श्री ठाकुर अनुकुल चंद्र तपबन विद्यालय (अंग्रेजी माध्यम) माध्यमिक और सीनियर माध्यमिक के लिए, ऋषि शांडिल्य विश्वविद्यालय, श्री मंदिर – डॉ. पचेतरंजन चक्रवर्ती, माता मनमोहिनी अधतिक आवास – गेस्ट हाउस, पुरुषोत्तम आयुर्वेद ऐप लॉन्च, पुरुषोत्तम फार्मा और रिटेल चेन की वेबसाइट लॉन्च, सत्संग मिशन कृषि विज्ञान केंद्र, सत्संग मिशन गोशाला और साथ ही ओपीडी और टेलीमेडिसिन लॉन्च।

ठाकुर अनुकुल चंद्र सत्संग मिशन साधनपीठ के अध्यक्ष बिभास चंद्र अधिकारी ने कहा, “हम मानते हैं कि मानवता दुनिया की सबसे अच्छी चीज है। हमारा संगठन सोचता है कि सामाजिक उत्तरदायित्व केवल शब्दों तक सीमित नहीं होना चाहिए। हमें समाज की बेहतरी के लिए विभिन्न परियोजनाओं को प्रोत्साहित करना चाहिए। हमारा उद्देश्य मानव जाति की सेवा करना, श्री श्री ठाकुर अनुकुल चंद्र की विचारधारा का पालन करना और लोगों को उस विचारधारा से अवगत कराना है जो श्री श्री ठाकुर अनुकुल चंद्र ने मानव जाति के बारे में सोचा और कहा था।”

शिलान्यास के अवसर पर विभिन्न क्षेत्रों के गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे। बिभास चंद्र अधिकारी, अध्यक्ष, ठाकुर अनुकुल चंद्र सत्संग मिशन साधनपीठ, गौरव कुमार सरकार, संस्थापक-जीएसबी समूह और एस बनर्जी, परियोजना प्रबंधन सलाहकार-ठाकुर अनुकुल चंद्र सत्संग मिशन साधनपीठ मीडिया को संबोधित करने के लिए उपस्थित थे।

2007 में श्री श्री ठाकुर अनुकुल चंद्र के एक शिष्य, बिभास चंद्र अधिकारी ने ठाकुर अनुकुल चंद्र सत्संग मिशन साधनपीठ के नाम पर एक चैरिटेबल ट्रस्ट का गठन किया। ठाकुर अनुकुल चंद्र सत्संग मिशन साधनापीठ एक चैरिटेबल ट्रस्ट है। यह भारतीय पंजीकरण अधिनियम-पश्चिम बंगाल सरकार के तहत पंजीकृत है। मानव जाति की सेवा के मिशन के साथ यह राज्य और देश भर में काम करता है। ठाकुर अनुकुल चंद्र सत्संग मिशन साधनपीठ का मुख्य उद्देश्य श्री श्री ठाकुर अनुकुल चंद्र की विचारधारा का पालन करना और लोगों को उस विचारधारा से अवगत कराना है।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here