नयी दिल्ली : राष्ट्रपति द्रोपदी मुर्मू ने बुधवार की सुबह राष्ट्रपति भवन में जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ को देश के नए चीफ जस्टिस (सीजेआई) के रूप में शपथ दिलाई। जस्टिस चंद्रचूड़ ने देश के 50वें सीजेआई के रूप में शपथ ली। सीजेआई चंद्रचूड़ का कार्यकाल दो साल से ज्यादा अवधि का होगा। वो 10 नवंबर, 2024 को रिटायर होंगे।

Advertisement

सीजेआई चंद्रचूड़ ने दिल्ली के सेंट स्टीफेंस कॉलेज से इकोनॉमिक्स से बीए ऑनर्स करने के बाद दिल्ली यूनिवर्सिटी से एलएलबी किया। इसके बाद एलएलएम करने हार्वर्ड लॉ स्कूल चले गए। वे कई विदेशी यूनिवर्सिटी और लॉ कॉलेजों में व्याख्यान दे चुके हैं। वे अमेरिका के ओकलाहामा युनिवर्सिटी स्कूल ऑफ लॉ और मुंबई यूनिवर्सिटी में कंपरेटिव कांस्टीट्यूशनल लॉ में विजिटिंग प्रोफेसर रह चुके हैं। उन्होंने बॉम्बे हाईकोर्ट और सुप्रीम कोर्ट में वकालत की है । उन्हें जून, 1998 में बॉम्बे हाई कोर्ट में सीनियर एडवोकेट का दर्जा दिया गया। वे 1998 से मार्च 2000 तक एएसजी रहे। उन्हें 29 मार्च, 2000 को बॉम्बे हाई कोर्ट का जज नियुक्त किया गया। 31 अक्टूबर, 2013 को उन्हें इलाहाबाद हाई कोर्ट का चीफ जस्टिस नियुक्त किया गया। 13 मई, 2016 को उन्हें सुप्रीम कोर्ट का जज नियुक्त किया गया।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here