हुगली : हुगली जिले में चुंचुड़ा थाना क्षेत्र के बूड़ो शिवतल्ला इलाके के रहने वाले वृद्ध रामेन्द्र नारायण चक्रबर्ती के तीन अलग-अलग बैंक एकाउंटों से शुक्रवार को डेढ़ लाख रुपये निकाल लिए गए हैं। एक ऐप के जरिये यूपीआई आईडी बनाकर तीन अलग-अलग बैंक अकाउंट से डेढ़ लाख रुपये निकाल लिए गए।

Advertisement

निजी कंपनी के सेवानिवृत्त कर्मचारी 65 वर्षीय रमेंद्र नारायण चक्रवर्ती ने बताया कि दोपहर एक बैंक कर्मचारी के रूप में खुद का परिचय देने वाले एक व्यक्ति का फोन आया। उसने कहा कि उनका एसबीआई बैंक एटीएम कार्ड ब्लॉक हो गया है। इसे सक्रिय करना होगा। रमेंद्र ने पहले उस ठग से कहा कि वे बैंक जाकर इस बारे में जानकारी लेंगे। जालसाज ने फोन पर कहा, फिलहाल बैंक वह सब काम नहीं कर रहा है, कोरोना परिस्थतियों के कारण फोन से ही कार्ड सक्रिय करना होगा।

जालसाज ने कहा कि एक ऐप की मदद से डेबिट कार्ड को घर बैठे अपडेट किया जा सकेगा। उसने पीड़ित के मोबाइल में एसएमएस लिंक भेजा। लिंक पर क्लिक करने से रमेंद्र के मोबाइल पर एक ऐप डाउनलोड हो गया। कुछ देर बाद रमेंद्र ने देखा कि उनके एसबीआई बैंक खाते से पैसे कट रहे हैं। बाद में उनके एचडीएफसी और केनरा बैंक खातों से पैसे काट लिए गए। तीनों खातों से करीब डेढ़ लाख रुपये काटे गए।

रामेंद्र ने कहा कि उन्होंने एक फोन नंबर से तीन बैंक खाते खोले। उन्होंने शनिवार को चुंचुड़ा थाने और चंदननगर कमिश्नरेट की साइबर क्राइम ब्रांच में शिकायत दर्ज कराई।

पेशे से वकील रमेंद्र के बेटे राजीव चक्रवर्ती ने कहा कि मेरे पिता की सेवानिवृत्ति का पैसा तीन खातों में था। उन्हें नहीं पता नहीं था कि एक ऐप की मदद से उनका फोन हैक हो गया है। ट्रांजैक्शन होने के बाद ओटीपी आता है लेकिन ऐप की वजह से ओटीपी नहीं आया।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here