देश-दुनिया के इतिहास में 27 नवंबर की तारीख तमाम वजह की वजह से दर्ज है। इस तारीख को क्रिकेट इतिहास में सबसे बुरी तारीख के रूप में याद किया जाता है। क्रिकेट में बल्लेबाजी और गेंदबाजी में बनने वाले रिकॉर्ड पर चर्चा तो बहुत होती है, लेकिन कभी मैदान पर ऐसा कुछ हो जाता है जो इतिहास में ‘बुरे दिन’ के रूप में दर्ज होता है। 27 नवंबर को कुछ ऐसा ही हुआ था।

Advertisement

ऑस्ट्रेलिया के फिलिप ह्यूज (25) अपना जन्मदिन (30 नवंबर) मनाने से तीन दिन पहले ही इस दुनिया को अलविदा कह गए थे। फिलिप ह्यूज का करियर बेहद छोटा, लेकिन शानदार है। 26 फरवरी 2009 को अपने पहले टेस्ट मैच से डेब्यू करने वाले फिलिप ने 26 टेस्ट, 25 वनडे और एक टी-20 मैच खेला। टेस्ट में उनके नाम 3 शतक और 1535 रन हैं। वनडे में 4 शतक और 826 रन हैं।

साल 2014 में 25 नवंबर को सिडनी के ग्राउंड पर साउथ ऑस्ट्रेलिया और न्यू साउथ वेल्स के बीच खेला गया मैच उनके सफर का आखिरी मैच साबित हुआ। फिलिप क्रीज पर थे। बॉलिंग कर रहे थे सीन एबॉट। एक तेज लेकिन शॉर्ट पिच गेंद सरसराती हुई आई और फिलिप के हेलमेट के पीछे सिर में लगी। वो क्रीज पर गिर पड़े। दो दिन कोमा में रहने के बाद 27 नवंबर, 2014 को सेंट विंसेंट अस्पताल में उनकी मौत हो गई। इस घटना ने पूरे क्रिकेट जगत को शॉक कर दिया था। सीन एबॉट इस घटना के बाद गहरे सदमे में थे। ह्यूज की मौत के बाद एबॉट भी हॉस्पिटल में थे और लगातार उनकी आंखों से आंसू आ रहे थे। इस घटना के बाद क्रिकेट जगत में बदलाव आया। बॉलर अपनी गेंदों से बल्लेबाजों को सीधा निशाना बनाने से बचने लगे।बैटिंग हैलमेट को पहले से और मजबूत बनाया गया। उसमें सुधार किए गए। हैलमेट के बैक रिम के नीचे एक गार्ड जोड़ा गया। फिलिप की मौत के बाद सिडनी क्रिकेट ग्राउंड की सात नंबर पिच में इसके बाद कभी कोई मैच नहीं खेला गया।

इसी तारीख को 1895 में नोबेल पुरस्कारों की स्थापना हुई थी। इन पुरस्कारों को वैज्ञानिक और इन्वेंटर अल्फ्रेड बर्नहार्ड नोबेल की वसीयत के आधार पर दिया जाता है। शुरुआत में केवल फिजिक्स, मेडिसिन, केमिस्ट्री, साहित्य और शांति के क्षेत्र में ही नोबेल दिया जाता था। बाद में इकोनॉमिक्स के क्षेत्र में भी नोबेल दिया जाने लगा। अल्फ्रेड नोबेल का जन्म 21 अक्टूबर, 1833 को हुआ था। पिता इमानुएल नोबल के दिवालिया होने के बाद 1842 में नोबल सिर्फ 9 साल की उम्र में अपनी मां आंद्रिएता एहल्सेल के साथ नाना के घर सेंट पीटर्सबर्ग चले गए। यहां उन्होंने रसायन विज्ञान और स्वीडिश, रूसी, अंग्रेजी, फ्रेंच और जर्मन भाषाएं सीखीं। अल्फ्रेड नोबेल के नाम 355 पेटेंट हैं, लेकिन लोग उन्हें डाइनामाइट की वजह से ज्यादा जानते हैं। डाइनामाइट के आविष्कार के बाद कंस्ट्रक्शन इंडस्ट्री में इसका इतना ज्यादा इस्तेमाल होने लगा कि अल्फ्रेड ने 90 जगहों पर डाइनामाइट बनाने की फैक्टरी खोली। 20 से ज्यादा देशों में यह फैक्टरी थीं।

कहा जाता है कि डाइनामाइट का गलत इस्तेमाल होता देख अल्फ्रेड को अपने आविष्कार पर दुख हुआ। इसके लिए उन्होंने अपनी वसीयत में मानवता को लाभ पहुंचाने वाले लोगों को अपनी संपत्ति में से पुरस्कार देने की इच्छा जताई। 27 नवंबर, 1895 को अल्फ्रेड नोबेल ने अपनी आखिरी वसीयत लिखी। इसी वसीयत के आधार पर नोबेल पुरस्कारों की स्थापना हुई। 1901 में पहली बार नोबेल पुरस्कार दिए गए।

27 नवंबर, 2008 को भारत के पूर्व प्रधानमंत्री विश्वनाथ प्रताप सिंह का निधन हुआ था। 31 दिसंबर, 1984 को सिंह राजीव गांधी सरकार में वित्तमंत्री थे। साल 1987 में स्वीडन ने बोफोर्स तोप सौदे में दलाली की खबर प्रकाशित की। इसमें राजीव गांधी का नाम था। संसद में हंगामा हुआ। इस मुद्दे को सिंह ने भी उठाया। नतीजा यह हुआ कि सिंह को पार्टी से निष्कासित कर दिया। इसके बाद राजीव गांधी की सरकार ज्यादा नहीं चल सकी और गिर गई। 1989 के लोकसभा चुनाव में भाजपा और वामपंथ की मदद से सिंह देश के प्रधानमंत्री बने। सिंह का जन्म 26 जून, 1931 को यूपी के इलाहाबाद (अब प्रयागराज) में हुआ था। वह 09 जून, 1980 से 28 जून, 1982 तक उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे।

महत्वपूर्ण घटनाचक्र

1001ः गजनी के सुल्तान महमूद के साथ लड़ाई में जयपाल की हार।

1795: पहले बांग्ला नाटक का कलकत्ता के एजरा स्ट्रीट में स्टेज पर मंचन।

1975ः बीबीसी के कार्यक्रम प्रस्तुतकर्ता रोस मैक्वर्स्टर की गोली मारकर हत्या। उन्हें गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड के सह संस्थापक के तौर पर भी जाना जाता है।

1895: नोबेल पुरस्कार की स्थापना की।

1912ः अल्बानिया ने राष्ट्रीय ध्वज अपनाया।

1932ः पोलैंड और तत्कालीन सोवियत संघ ने अनाक्रमण समझौते पर हस्ताक्षर किया।

1947: पेरिस में पुलिस ने कम्युनिस्ट समाचार पत्र के कार्यालय पर कब्जा किया।

1949ः जबलपुर में चंदा जुटाकर नगर पालिका प्रांगण में सुभद्रा कुमारी चौहान की आदमकद प्रतिमा लगवाई गई। इसका अनावरण कवयित्री और उनकी बचपन की सहेली महादेवी वर्मा ने किया।

1966: उरुग्वे ने संविधान अपनाया था।

1967ः फ्रांस के तत्कालीन राष्ट्रपति चार्ल्स डी गॉल ने दोहराया कि वह ब्रिटेन की सामूहिक बाजार की कोशिशों का विरोध करेंगे।

2001ः हब्बल टेलीस्कोप ने सौर मंडल से बाहर ओसाइरस ग्रह पर हाइड्रोजन युक्त वायुमंडल की खोज की।

2004ः अंतरराष्ट्रीय श्रम संगठन के अध्यक्ष जुआन सोमाविया भारत यात्रा पर नई दिल्ली पहुंचे।

2005ः फ्रांस में महिला इजाबेल दिनोरे का दुनिया में पहली बार सफल आंशिक चेहरा प्रतिरोपण।

2008ः छठा वेतन आयोग देने वाला उत्तर प्रदेश देश का पहला राज्य बना।

2012ः यूरोजोन ने वित्तीय संकट से जूझ रहे यूनान को 43.7 अरब यूरो का ऋण देने की घोषणा की।

2013ः दुनिया में सबसे ज्यादा कमाई करने वाली एनिमेशन फिल्म ‘फ्रोजन’ रिलीज।

2017ः उत्तर प्रदेश के उरई में पत्ते चरने और गमले तोड़ने के आरोप में चार दिन जेल में बंद रहने के बाद आठ गदहों (गधों) को रिहा किया गया।

2019ः पृथ्वी की बेहद साफ तस्वीर लेने वाले भारत के कार्टोसैट-3 उपग्रह का सफल प्रक्षेपण।

2019ः पशु चिकित्सक प्रियंका रेड्डी को सामूहिक बलात्कार करके जिंदा जला दिया गया।

जन्म

1817ः जर्मनी के विख्यात इतिहासकार थियोडर मोमसेन।

1881: प्रसिद्ध इतिहासकार काशी प्रसाद जायसवाल।

1888: प्रसिद्ध स्वतंत्रता सेनानी और लोकसभा के प्रथम अध्यक्ष गणेश वासुदेव मावलंकर।

1907: प्रसिद्ध कवि और लेखक हरिवंश राय बच्चन।

1940: मार्शल आर्ट के महानायक ब्रूस ली।

1952ः हिंदी फिल्मों के प्रसिद्ध संगीतकार बप्पी लाहिड़ी।

1986ः भारतीय क्रिकेटर सुरेश रैना।

निधन

1953ः अमेरिका के विख्यात ड्रामा लेखक पूजीन ओ नील।

1976ः मराठी उपन्यासकार और पत्रकार गजानन त्र्यंबक माडखोलकर।

1978ः भारत की प्रख्यात समाज सुधारक लक्ष्मीबाई केलकर।

2002: प्रसिद्ध प्रगतिशील कवि शिवमंगल सिंह सुमन।

2008ः पूर्व प्रधानमंत्री विश्वनाथ प्रताप सिंह।

2011ः भारत के प्रसिद्ध सारंगी वादक सुल्तान खान।

2018ः पार्श्व गायक मुहम्मद अजीज।

2019ः भारतीय नौसेना के पूर्व प्रमुख एडमिरल सुशील कुमार।

हिन्दुस्थान समाचार/मुकुंद

 

 

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here