रांची : प्रतिबंधित उग्रवादी संगठन तृतीय प्रस्तुति कमेटी (टीपीसी) को फंड मुहैया कराने के मामले में गिरफ्तार किये गये आधुनिक पावर एंड नेचुरल रिसोर्सेज लिमिटेड के पूर्व प्रबंध निदेशक महेश अग्रवाल को बुधवार को कोलकाता महानगर स्थित एनआईए की विशेष अदालत में पेश किया गया, जहां से उन्हें ट्रांजिट रिमांड की अनुमति मिल गयी।

Advertisement

गौरतलब है कि महेश अग्रवाल को टेरर फंडिंग मामले में हाईकोर्ट द्वारा राहत दिये जाने से इनकार करने के बाद मंगलवार को एनआईए ने उस वक्त गिरफ्तार कर लिया था, जब वह कोलकाता स्थित अपने आवास से निकल रहे थे। एनआईए के सूत्रों ने बताया कि एनआईए की टीम बुधवार को कोलकाता से ट्रांजिट रिमांड मिलने के बाद अग्रवाल को बुधवार की देर रात लेकर रांची पहुंची।

उन्हें 22 जनवरी तक एनआईए की रांची स्थित अदालत में पेश करना होगा। इस मामले में अन्य दो आरोपियों कोयला ट्रांसपोर्टर अमित अग्रवाल उर्फ सोनू और विनीत अग्रवाल की गिरफ्तारी अब तक नहीं हो पायी है। महेश अग्रवाल सहित तीनों आरोपियों पर सीसीएल के आम्रपाली परियोजना से कोयला ट्रांसपोर्टिंग के लिए उग्रवादी संगठन टीपीसी को फंड देने का आरोप है।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here