कोलकाता : रविवार को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बेहाला की सभा से अपनी पार्टी के नेता अनुव्रत मंडल की गिरफ्तारी पर खुलकर बात की। उन्होंने कहा था कि वह तृणमूल नेता के साथ हमेशा खड़ी रहेंगी। पार्टी से संदेश प्राप्त करने के बाद अनुव्रत मंडल आश्वस्त हैं। सोमवार को उन्होंने अपने वकील से कहा कि मुझे पता था कि दीदी हमेशा साथ देंगी।

Advertisement

सूत्रों के अनुसार वकील अनिर्बान गुहा ठाकुरता ने सोमवार को

अनुव्रत से निजाम पैलेस में मुलाकात की। उसके बाद वकील ने कहा कि पार्टी नेता ममता बनर्जी के संदेश ने अनुब्रत को काफी मजबूत किया। वकील से दावा किया कि अनुव्रत को गलत तरीके से गिरफ्तार किया गया था, वह निर्दोष है। उन्होंने यह भी कहा कि उन्हें पता था कि ममता बनर्जी उनके साथ होंगी। वे खुश हैं क्योंकि दीदी उनके साथ हैं।

बीरभूम जिला तृणमूल अध्यक्ष अनुव्रत मंडल को पिछले गुरुवार को बोलपुर में उनके निचुपट्टी घर से गिरफ्तार किया गया था। तभी से सबकी निगाहें इस बात पर भी थीं कि पार्टी की ओर से अनुब्रत के खिलाफ क्या कार्रवाई की जाएगी। इस बीच ममता बनर्जी ने रविवार को पार्टी का रुख स्पष्ट किया।
ममता ने कहा कि अनुव्रत को गलत तरीके से गिरफ्तार किया गया था। उसके बाद मुख्यमंत्री ने कहा कि अनुव्रत ने कभी सत्ता या पद की मांग नहीं की। उन्होंने आगे कहा कि केष्टो को कई बार कहा है कि वे विधायक बन सकते हैं, मैंने उनको सांसद बनने की सलाह भी दी लेकिन वह कभी नहीं माने।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here