इतिहास के पन्नों में : 21 जनवरी – मूर्तिदेवी सम्मान पाने वाली पहली महिला लेखिका

143

मूर्तिदेवी सम्मान पाने वाली पहली महिला लेखिका प्रतिभा राय ओड़िया भाषा की सुप्रतिष्ठित लेखिका हैं, जिनका आधुनिक ओड़िया साहित्य में व्यापक योगदान है। उनके कुछ उपन्यासों को हिंदी के पाठकों ने भी हाथोंहाथ लिया, जिन उपन्यासों का हिंदी अनुवाद उपलब्ध है। इनमें मुख्य रूप से दो उपन्यास ‘शिलापद्म’ का हिंदी अनुवाद ‘कोणार्क’ और बहु प्रशंसित ‘याज्ञसेनी’ का हिंदी अनुवाद ‘द्रौपदी’ काफी पढ़े जाने वाले उपन्यासों में शामिल है।

Advertisement

21 जनवरी 1943 को ओडिशा के जगतसिंहपुर जिले के अल्बोल गांव में पैदा हुईं प्रतिभा राय के अबतक 20 उपन्यास, 24 लघुकथा संग्रह, 10 यात्रा वृत्तांत, दो कविता संग्रह और कई निबंध प्रकाशित हो चुके हैं। उन्होंने अपनी मातृभाषा ओड़िया में तमाम रचनाएं लिखीं हैं। इन सामग्रियों का हिंदी, अंग्रेजी सहित कई दूसरी भाषाओं में अनुवाद हो चुका है।

ज्ञानपीठ पुरस्कार (वर्ष 2011) से सम्मानित प्रतिभा राय मूर्तिदेवी पुरस्कार (वर्ष 1991) पाने वाली वे पहली महिला लेखिका हैं।उनका पहला उपन्यास ‘बरसा बसंता बैशाखा’ था। उनके दूसरे प्रमुख उपन्यासों में ‘निषिद्ध पृथिबी’, ‘परिचय’, ‘अपरिचिता’, ‘मेघमेदुर’, ‘पुण्यतोया’, ‘आशाबरी’, ‘अयमारम्भ’ हैं।

एक शिक्षिका के तौर पर लंबे समय तक काम करने वाली लेखिका प्रतिभा राय, हर तरह के सामाजिक भेदभाव के खिलाफ और महिला पक्षधरता को लेकर मुखर रही हैं। सामाजिक समानता के लिए काम करने वाली प्रतिभा राय को उनके आलोचकों ने नारीवादी के रूप में रेखांकित किया। लेकिन उन्होंने कहा कि ‘मैं एक मानवतावादी हूं। समाज के स्वस्थ कामकाज के लिए पुरुषों और महिलाओं को अलग तरह से बनाया गया है। महिलाओं को जिन विशेषताओं से बनाया गया है उसका सम्मान किया जाना चाहिए। हालांकि एक इंसान के रूप में महिला, पुरुषों के बराबर है।’

अन्य अहम घटनाएंः

1924ः सोवियत संघ के पहले प्रमुख व्लादिमीर लेनिन का निधन।

1950ः अंग्रेजी के चर्चित लेखक जॉर्ज ऑरवेल का निधन।

1963ः जाने-माने हिंदी साहित्यकार, कहानीकार और संपादक शिवपूजन सहाय का निधन।

1972ः मणिपुर, मेघालय और त्रिपुरा राज्य की स्थापना।

1986ः फिल्म अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत का जन्म।

2016ः पद्म भूषण से सम्मानित शास्त्रीय नृत्यांगना मृणालिनी साराभाई का निधन।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here