फिरहाद हकीम ने संभाला कोलकाता नगर निगम के मेयर का पद

254
फिरहाद हकीम (फाइल फोटो)

प्रोटेम चेयरमैन ने हकीम को नगर निगम के मेयर और सांसद माला को चेयरपर्सन की दिलाई शपथ

Advertisement

मेयर परिषद के सदस्यों के सहयोग से कोलकाता को विश्व का सर्वश्रेष्ठ शहर बनाने को प्रतिबद्ध : हकीम

कोलकाता : ममता कैबिनेट में परिवहन मंत्री फिरहाद हकीम ने मंगलवार को कोलकाता नगर निगम में मेयर के तौर पर दूसरी बार शपथ ली है। उनके साथ सांसद माला रॉय ने भी कोलकाता नगर निगम के चेयरपर्सन की शपथ ली।

मंगलवार को नगर निगम के परिसर में शपथग्रहण कार्यक्रम आयोजित किया गया। नगर निगम के प्रोटेम चेयरमैन रामप्यारे राम ने फिरहाद हकीम को नगर निगम के मेयर पद की शपथ दिलाई। कोलकाता के वार्ड नंबर 82 से जीते पार्षद हकीम कोलकाता नगर निगम के 39वें मेयर बने हैं। उनके साथ तृणमूल की सांसद माला रॉय को भी नगर निगम के चेयरपर्सन पद की शपथ दिलाई गई है।

शपथग्रहण के बाद 62 वर्षीय फिरहाद हकीम ने कहा है कि मेयर परिषद के बाकी सदस्यों के साथ मिलकर कोलकाता को सर्वश्रेष्ठ शहर के रूप में विकसित करने के लिए वह प्रतिबद्ध हैं। पार्षदों को नसीहत देते हुए फिरहाद ने कहा कि “जब भी खोजा जाए तब मौजूद रहें”, इसी लक्ष्य को ध्यान में रखते हुए काम करना है। उन्होंने कहा कि हर एक पार्षद को अपने वार्ड में विकास और निकाय संबंधित सेवाओं को सुगमतापूर्वक उपलब्ध कराने का लक्ष्य लेकर चलना होगा। उन्होंने कहा कि जो लोग भी जीत कर आए हैं, वे जनता के सेवक हैं। फिरहाद ने कहा कि वह खुद को प्रधान सेवक मानकर लोगों के लिए काम करेंगे।

हर छह महीने पर जारी करेंगे रिपोर्ट कार्ड

नगर निगम में मेयर की कुर्सी संभालने के बाद फिरहाद ने निगम के अधिकारियों से मुलाकात की। नगर निगम के कर्मचारियों ने फूलों का गुलदस्ता देकर शुभकामनाएं दीं। इस दौरान उन्होंने कहा कि हर छह महीने पर कोलकाता नगर निगम अपना रिपोर्ट कार्ड पेश करेगा। अपने चुनावी वादे को पूरा करने का आश्वासन देते हुए हकीम ने कहा कि कोलकाता के छह पॉकेट में बारिश के समय जलभराव होता है। वहां नए पंपिंग स्टेशन बनाए जाएंगे। जितने भी नहर और जल निकासी व्यवस्थाएं हैं, उन्हें साफ किया जाएगा। पंप की शक्ति भी बढ़ाई जाएगी। कोलकाता में विज्ञापन की वजह से जो दृश्य प्रदूषण होता है, उसे भी नियंत्रित किया जाएगा।

पुराने मकानों के लिए बनेंगे नए नियम

हकीम ने बताया कि पुराने मकानों के लिए नए नियम बनाए जाएंगे ताकि वहां रहने वाले लोगों को किसी तरह की असुविधा न हो। कोलकाता के इतिहास की रक्षा के लिए नगर निगम विशेष तौर पर प्रतिबद्ध है और रहेगा। ऐतिहासिक इमारतों के संरक्षण की व्यवस्था की जाएगी।

व्हाट्सएप के जरिए लोग बता सकेंगे समस्याएं

हकीम ने कहा कि लोग शहर की समस्याओं को व्हाट्सएप के जरिए सीधे मेयर को वीडियो और फोटो के जरिए बता सकेंगे। इसके अलावा सिंगल विंडो के जरिए बिल्डिंग प्लान को अनुमति देने के लिए मोबाइल एप्लीकेशन तैयार किया जाएगा। दो सालों के अंदर मोबाइल एप्लीकेशन पर सारी व्यवस्थाएं कर दी जाएंगी। इसी के जरिए कोलकाता में अवैध पार्किंग को रोकने की भी पहल की जाएगी।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here