कोलकाता : पश्चिम बंगाल में नकद रुपयों की बरामदगी का सिलसिला जारी है। पश्चिम बंगाल में शिक्षक भर्ती घोटाले में करोड़ों रुपये के नोटों की बरामदगी के बाद शुक्रवार को कोलकाता पुलिस ने एक मुखबिर की जानकारी पर कार्रवाई करते हुए अनवर हुसैन मुल्लाहा (51) पुत्र मोजम्मल मोल्लाह, गांव चंडीहाट, काशीपुर, 24 परगना (दक्षिण) और उनके बेटे मुस्तकीन मोल्लाह को 10, दिगंबर जैन मंदिर रोड के सामने हिरासत में ले लिया। उनके पास से बिना किसी वैध दस्तावेज के 50 लाख रुपये नकद भी जब्त किये। पुलिस के अनुसार पूछताछ के दौरान यह पता चला है कि उन्होंने कोलकाता के कॉटन स्ट्रीट स्थित एक कार्यालय से नकदी एकत्र की थी। आगे पता चला है कि वे वाहक के रूप में कार्य कर रहे हैं। वे कॉटन स्ट्रीट में 10 रुपये के नोट के नंबर के साथ रुपये लेने पहुंचे थे।

Advertisement

पुलिस ने कहा कि चूंकि वे इतनी बड़ी राशि नकद ले जाने के संबंध में कोई वैध दस्तावेज या कोई संतोषजनक स्पष्टीकरण प्रस्तुत नहीं कर सके, तदनुसार नकद 50 लाख जब्त किए गए हैं और दोनों वाहकों को पोस्ता थाना के माध्यम से धारा 379 आईपीसी के मामले में धारा 41 सीआरपीसी के तहत गिरफ्तार किया गया है। उनके खिलाफ आपराधिक मामले शुरू किये गये हैं। इस संबंध में आयकर विभाग को अवगत कराया जा रहा है। आयकर विभाग ने इस मामले की जांच शुरू की है और पुलिस हिरासत मिलने के बाद आयकर विभाग पूरे मामले की जानकारी कोलकाता पुलिस से हासिल करेगा।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here