– धमकी से कामकाज पर फर्क नहीं पड़ेगा: एकनाथ शिंदे

Advertisement

मुंबई : राज्य के खुफिया विभाग ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे को आत्मघाती विस्फोट में उड़ाने के प्रयास होने के इनपुट के बाद रविवार से मुख्यमंत्री की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। मुख्यमंत्री के हर कार्यक्रमों की बारीकी से जांच की जा रही है।

जानकारी के अनुसार रविवार को राज्य गुप्तचर विभाग (खुफिया विभाग) ने एक रिपोर्ट गृह विभाग को सौंपी है, जिसमें मुख्यमंत्री पर आत्मघाती विस्फोट की साजिश रचे जाने की जानकारी दी गई है। इस रिपोर्ट को गृह विभाग ने गंभीरता से लिया है। इसके बाद मुख्यमंत्री शिंदे की सुरक्षा और चाक चौबंद करने का निर्देश दिया गया है। उनकी सुरक्षा में लगे पुलिसकर्मियों की संख्या बढ़ाने के साथ ही पूरे सिस्टम को अलर्ट कर दिया गया है।

खुफिया विभाग की रिपोर्ट को लेकर मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने कहा कि वे इस तरह की धमकियों से डरने वाले नहीं हैं। इन धमकियों से उनके कामकाज पर फर्क नहीं पड़ने वाला है। गृह विभाग इन धमकियों की जांच करके कार्रवाई करेगा। उपमुख्यमंत्री और गृहमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने भी मुख्यमंत्री को मिली धमकी को गंभीरता से लेते हुए इसकी गहन छानबीन का आदेश दिया है। उन्होंने गृहविभाग को मुख्यमंत्री की सुरक्षा पर विशेष ध्यान दिए जाने आदेश भी दिया है।

दरअसल, एकनाथ शिंदे पिछली सरकार में गढ़चिरौली जिले के संरक्षक मंत्री थे। उस समय भी माओवादियों ने एकनाथ शिंदे को जान से मारने की धमकी दी थी। उस समय भी शिंदे की सुरक्षा कड़ी कर दी गई थी। एक महीने पहले मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे को धमकी देने वाला पत्र मंत्रालय में उनके कार्यालय में मिला था। बताया जा रहा है कि इस पत्र के बाद मंत्रालय में अज्ञात व्यक्ति ने फोन पर भी धमकी दी थी।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here