भवानीपुर में भिड़े भाजपा व तृणमूल कार्यकर्ता, दिलीप घोष से बदसलूकी

89
Mamata Banerjee : File Photo
ममता बनर्जी (फाइल फोटो)

चुनाव प्रचार के आखिरी दिन भवानीपुर में भिड़े भाजपा व तृणमूल कार्यकर्ता, दिलीप घोष से बदसलूकी

Advertisement

कोलकाता : पश्चिम बंगाल की भवानीपुर विधानसभा में उपचुनाव में आज प्रचार के आखिरी दिन भाजपा और तृणमूल कार्यकर्ता आपस में भिड़ गए। आरोप है कि तृणमूल के कार्यकर्ताओं ने भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं से धक्का-मुक्की की और भाजपा की बंगाल इकाई के पूर्व अध्यक्ष दिलीप घोष से बदसलूकी भी की गई। इस घटना के बाद सोमवार को भाजपा ने तृणमूल कांग्रेस पर जमकर हमला बोला। इसी बीच भाजपा ने दावा किया है कि तृणमूल कांग्रेस और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी डरे हैं, इसलिए वे हिंसा का सहारा ले रहे हैं।

सोमवार को भाजपा के वरिष्ठ नेता चुनाव प्रचार कर रहे थे। भाजपा का आरोप है कि इस दौरान तृणमूल कार्यकर्ताओं ने उनके साथ धक्कामुक्की की। यहां तक कि भाजपा सांसद के साथ भी दुर्व्यवहार भी किया गया। इस घटना का एक वीडियो भी वायरल हुआ है। वीडियो में दिख रहा है कि दोनों दलों के कार्यकर्ता आपस में उलझे हुए हैं। स्थिति की गंभीरता को देखते हुए एक सुरक्षागार्ड को अपनी पिस्तौल तक निकालनी पड़ी। इस घटना के बाद भाजपा नेताओं ने तृणमूल पर गंभीर आरोप लगाए हैं।

सोमवार को भाजपा की आईटी सेल के इंचार्ज अमित मालवीय ने कहा कि भवानीपुर में भाजपा की व्यापक पहुंच ने तृणमूल को बेचैन कर दिया है। नेताओं को प्रचार करने से रोकने की कोशिश की जा रही है लेकिन वे कितने लोगों को रोक पाएंगे। भाजपा के नेता क्षेत्र के कोने-कोने में फैले हुए हैं। महत्वपूर्ण बात यह है कि जनता बड़ी संख्या में भाजपा को समर्थन के लिए तैयार है।
सांसद दिलीप घोष ने कहा कि लड़ाई तगड़ी है। तृणमूल डरी हुई है, इसलिए वह हाथापाई कर रही है। उन्होंने कहा कि हमारे सांसद अर्जुन सिंह प्रचार कर रहे थे। तृणमूल के कुछ लोग उनके पीछे लग गए। गो बैक के नारे लगाए। उनके साथ धक्कामुक्की की और मोहल्ले से बाहर निकाल दिया। घोष ने कहा कि तृणमूल के लोग भाजपा की जमानत जब्त होना बता रहे थे। आज ममता बनर्जी का पूरा मंत्रिमंडल भवानीपुर में लगा है। मंत्री सड़क पर डेरा जमाए हैं। उन्होंने कहा कि हम लड़ने वाले लोग हैं। हम डोर टू डोर लोगों तक पहुंच रहे हैं। अत्याचार, हिंसा और तानाशाह के खिलाफ भाजपा वोट मांग रही है। उन्होंने बंगाल की इमेज आतंकवाद की बना दी है। यह छवि हो गई है कि यहां कटमनी, सिंडीकेट चलता है। भ्रष्टाचर चरम पर है। लोग यहां एक बार आने के बाद फिर से आने पर डरते हैं।

इस बीच धक्कामुक्की का वीडियो पोस्ट करते हुए सांसद अर्जुन सिंह ने कहा कि अगर ममता बनर्जी और अभिषेक बनर्जी को भवानीपुर उपचुनाव एक लाख के अंतर से जीतने का इतना भरोसा है तो फिर क्षेत्र में इस तरह की गुंडागर्दी क्यों हो रही है। बंगाल भाजपा नेताओं का घेराव क्यों किया जा रहा है। क्या उन्हें भवानीपुर में भी नंदीग्राम दोहराने का डर है।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here