– दूसरे राज्य पहुंचा एसटीएफ

Advertisement

कोलकाता : हावड़ा से मोहम्मद सद्दाम (28) और सईद अहमद (30) नाम के जिन दोनों आतंकियों को पकड़ा गया है उनसे पूछताछ में चौंकाने वाले खुलासे हुए हैं। कोलकाता पुलिस के स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) के उपायुक्त आईपीएस वी. सोलोमन नेशा कुमार ने सोमवार की देर शाम बताया है कि मोहम्मद सद्दाम के घर से एक डायरी मिली है जिसमें अरबी में इस बात की जानकारी लिखी गई है कि दोनों ने आईएसआईएस आतंकी संगठन के प्रति वफादारी की शपथ ली थी। इसमें कई अन्य आतंकवादी शामिल रहे हैं। इनके बाकी साथियों की तलाश में एसटीएफ की टीम पश्चिम बंगाल के बाहर दूसरे राज्यों में भी रवाना हुई है। हालांकि फिलहाल पुलिस ने यह नहीं बताया है कि किन राज्यों में पुलिस टीम को भेजा गया है। एक दिन पहले ही यह पता चला था कि दोनों ना केवल आईएसआईएस से जुड़े हुए हैं बल्कि पाकिस्तान के कई कुख्यात आतंकी संगठनों के हैंडलर्स के लगातार संपर्क में थे। भारतीय उपमहाद्वीप में विभिन्न आतंकी वारदातों को अंजाम देने के लिए उन्हें लगातार निर्देश मिल रहे थे। दोनों आतंकियों ने इसके लिए अपने आसपास रहने वाले युवाओं को ब्रेनवाश कर तैयार करना भी शुरू कर दिया था। पाकिस्तानी हैंडलर से साथ टेलीग्राम के जरिए दोनों की कूट भाषा में बातचीत होती थी।

यह भी पता चला है कि दोनों को मिलने के लिए पाकिस्तान बुलाया जा रहा था और वे नेपाल के रास्ते पाकिस्तान जाने के फिराक में भी लगे हुए थे। इनमें से सद्दाम इंजीनियरिंग का छात्र है। उसने एम. टेक में एडमिशन लिया था लेकिन पढ़ाई पूरी नहीं की। अधिकारियों की पूछताछ में उसने बताया है कि एम. टेक की पढ़ाई उसने पूरी नहीं की है और सोशल मीडिया के जरिए ही लगातार आतंकी गतिविधियों को अंजाम देने वालों के संपर्क में था। उसने बताया है कि आईएसआईएस इस्लाम के लिए दुनिया भर में लड़ाई लड़ रहा है और दोनों उसका हिस्सा हैं। उनसे पूछताछ कर यह पता लगाया जा रहा है कि पश्चिम बंगाल में उनके और साथी कौन-कौन से लोग हैं और किन-किन गतिविधियों को अंजाम देने की साज़िश रचते रहे हैं।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here