संवाददाताओं से बातचीत करते बीजेपी सांसद अर्जुन सिंह

बैरकपुर : नेताजी जयंती पर नेताजी की मूर्ति पर माल्यार्पण को लेकर टीएमसी कर्मियों और बीजेपी कर्मियों में झड़प हुई थी। खबर पाकर जब बीजेपी सांसद अर्जुन सिंह घटनास्थल पर पहुँचे तो टीएमसी समर्थकों ने उनका घेराव कर हमला बोल दिया। हमलावरों के रुख को देखते हुए सांसद की सुरक्षा में लगे सीआईएसएफ जवानों को हवाई फ़ायरिंग करनी पड़ी थी। इस घटना को लेकर पुलिस व तृणमूल की ओर से सांसद अर्जुन सिंह के खिलाफ कई मामले किए गए हैं। वहीं दूसरी ओर सांसद ने भी तृणमूल के पालिका प्रशासक गोपाल राउत, मुक्तार अंसारी, नूरे जमाल उर्फ साहेब, अरुण साव, तरुण साव, अमित साव के खिलाफ मामला दर्ज करवाया है।

Advertisement

अब इस घटना ने नया रुख अख्तियार कर लिया है। रविवार को घटना के दिन नैहाटी के विधायक पार्थ भौमिक व जगदल के विधायक सोमनाथ श्याम ने अर्जुन सिंह को अपने सुरक्षाकर्मियों के बिना मैदान में उतरने की चुनौती दी थी। सोमवार को सांसद अर्जुन सिंह ने इस चुनौती को सहर्ष स्वीकार किया है। सोमवार को संवाददाताओं के एक सवाल के जवाब में सांसद ने कहा कि दिन तय किया जाए, वे लड़ाई के लिए तैयार हैं। उन्होंने तणमूल नेताओं पर कटाक्ष करते हुए कहा कि सीपीएम के जमाने में ये लोग कहाँ थे? वे जब तक मीटिंग में नहीं पहुँचते थे तब तक मीटिंग ही शुरू नहीं होती थी, तब उनके पास कोई सुरक्षा नहीं होती थी।

उनके ऊपर दर्ज हुए मामलों को लेकर सांसद ने दो टूक शब्दों में कहा कि वे लोग जितना मामला करेंगे, उतना ही उनका लड़ाई करने के लिए उत्साह बुलंद होगा। उन्होंने अट्ठाहास करते हुए कहा कि ऐसे मामलों से उनका नाम गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रेकॉर्ड्स में दर्ज होगा।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here